विभाग के ऊपर मनमानी को आरोप

m taja khabar photoजिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, कस्बा कुलपहाड़। एते डूडा विभाग के तहत पांच सौ बत्तीस आसरा आवास आयें हे। जीखी लागत चार लाख 19 हजार रुपइया हे। फिर भी कर्मचारी ऊ रुपइया को बंटाधार करत हें।
प्रताप सिंह ओर राजाराम कहत हे की ई आवासन में हमाई जमीन बरबाद होत हे। काय से हमाई जमीन बोहतई बचाी हे। विभाग वाले एकई कमरा दस फुट को बनवाउत हे। ऊमें न अलमारी काटत हे, ओर न टाड़ निकारत हे। ईट ओर मसाला बिल्कुल खराब लगाउत हे।
श्याम सिंह कहत हें की हम गरीब आदमी हें, सरकारी सुविधा मिली हे। ऊ भी विभाग वाले आपन मनमानी करत हे। एक कमरा बाहर बनवाउत हे। हमाये घर के भी किचन ओर शौचालय बनाउत हे। ओई कमरा से हम दिन भर निकरहें किते समान धरहें। हमाये रहें के लाने एकऊ जघा न बचहे। कहत हते की हमाई शौचालय बाहर बनाओ तो नईं सुनत। ऊपर से न बनवायें की धमकी देत हे। हमाओ आठ आदमी को परिवार हे। एक कमरा में केसे गुजारा हो हे।
डूडा विभाग के कम्प्यूटर आपरेटर भूपेन्द्र कहत हे, की हमाये एते एसी अभे तक कोनऊ सूचना ओर दरखास नई आई हे। नई तो हम जरूर जांच कराते, काय से एक आवास में चार लाख 19 हजार रूपइया आओ हे।