विजय माल्या केस हारे

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

बैंकों से लोन लेकर देश से भाग चुके भारतीय बिजनसमैन विजय माल्या को यूके की एक अदालत से बड़ा झटका लगा है। वह यूके में भारतीय बैंकों द्वारा फाइल किया गया 1.55 अरब डॉलर या 10,000 करोड़ रुपये का मुकदमा हार गए हैं।
दरअसल, भारत के 13 बैंकों के समूह ने माल्या से 1.55 अरब डॉलर से अधिक की वसूली के लिए यहां एक मामला दर्ज कराया था। इस मामले में यूके कोर्ट में माल्या की याचिका खारिज हो गई है।
लंदन में जज एंड्र्यू हेनशॉ ने कहा कि आईडीबीआई  बैंक समेत लोन देनेवाले सभी बैंक भारतीय कोर्ट के फैसले को लागू करा सकते हैं। दरअसल, माल्या पर आरोप था कि उन्होंने जानबूझकर अब बंद हो चुकी अपनी किंगफिशर एयरलाइंस के लिए करीब 1.4 अरब डॉलर का कर्ज लिया था।
जज ने दुनियाभर में माल्या की संपत्तियों को फ्रीज करने का आदेश पलटने की मांग भी ठुकरा दी।
आपको बता दें कि 62 साल के माल्या यूके में ही नहीं भारत में भी कई मुकदमों का सामना कर रहे हैं, जिसमें फ्रॉड(धोखा) और मनी लॉन्ड्रिंग(पैसे का हेरफेर) के आरोपों से जुड़े केस शामिल हैं। एक साल पहले उन्हें लंदन में गिरफ्तार किया गया था और अब वह प्रत्यर्पण से बचने के लिए कोर्ट में कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं। सुनवाई के बाद माल्या के वकीलों ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।