वाराणसी जिले में लड़का-लड़की की हत्या, बनी अनसुलझी गुत्थी

वाराणसी जिले में लड़का लड़की की हत्या की एक घटना सामने आई है। हरीनगर कालोनी की रहने वाली ज्योति 6 मई को किसी मीटिंग के लिए बाहर गई थी।  जिसके बाद वह घर नहीं लौटी। पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल के बाहर कोई अज्ञात गाड़ी से लड़का लड़की दोनों को एक साथ छोड़ गया। मृत लड़के का नाम सूरज है, जो लड़की का रिश्तेदार ही था। अभी लड़का लड़की की मौत एक अनसुलझी गुत्थी ही बनी है।  

माँ सुनीता का कहना है कि दोनों लड़का लड़की को अस्पताल के सामने लोग छोड़ गये हैं। अब तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि सच क्या है।  पिता राजनाथ ने बताया कि 5 तारीख को लड़की को लेकर निमन्त्रण में गया था। 6 तारीख को शाम को घर वापस आया। उसका मोबाइल वही रह गया था। ननिहाल आने के बाद चार दिन तक फोन करने पर भी मोबाइल नहीं मिला। दादा बेंचू ने बताया कि हमें जरा से भी जानकारी नहीं थी कि इन दोनों का ये मैटर कब से चल रहा है। दादी जानकी देवी का कहना है कि जब यहाँ लाश आई तब डाक्टर ने फोन करके बताया, तो पता चला है। नाना समारोह ने बताया कि लड़का लड़की के मौसी का लड़का था। वो यहाँ आता जाता भी था। अभी दो तीन दिन के बीच में क्या हुआ हमें पता नहीं है।

पुलिस प्रशासन का कहना है कि ये केस हमारे संज्ञान में नहीं है। लाश अज्ञात पाई गईं हैं। पंचनामा करके पोस्टमार्टम सेंटर भेजा जा रहा है।    

रिपोर्टर: अनामिका

Published on May 10, 2018