परानू बाबा के श्रद्धालु अनेक, मांगें सबकी सड़क को लेकर एक

जिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, कस्बा बरगढ़ तीन किलोमीटर सड़क बरगढ़ मोड़ से परानू बाबा तक सौ साल से ख़राब पड़ी हवै। सावन के महीना मा हिंया परानू बाबा का मेला लागत हवै जेहिमा आस पास इलाका के मड़ई आवत हवै। पै ख़राब सड़क मा आये दिन दुर्घटना होत रहत हवै।  जिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, कस्बा बरगढ़ तीन किलोमीटर सड़क बरगढ़ मोड़ से परानू बाबा तक सौ साल से ख़राब पड़ी हवै। सावन के महीना मा हिंया परानू बाबा का मेला लागत हवै जेहिमा आस पास इलाका के मड़ई आवत हवै। पै ख़राब सड़क मा आये दिन दुर्घटना होत रहत हवै।   सड़क वन विभाग मा आवत हवै यहै कारन बनत नहीं रहै पै 2014 मा सर्वे कीन गा तौ वन  विभाग कइत से सड़क बने के मंजूरी मिल गें हवै। सड़क पी-डब्ल्यू डी विभाग कइत से बनाई जई। पी.डब्ल्यू डी. विभाग के अभियंता सेवा दास का कहब हवै कि सड़क बनावे खातिर डेढ़ साल पहिले स्टीमेट बना के भेंज दीन गा हवैं। जबै रुपिया आ जई तौ सड़क बन जई। शंकरगढ़ के रहै वाले रमेश चन्द्र भागवत अउर विष्णु का कहब हवै कि परानू बाबा मा हमेशा मेला लागत हवै पै सावन मा सोमवार अउर शुक्रवार का ख़ास मेला लागत हवै। जेहिसे या महीना मा बहुतै भीड़ रहत हवै यहै कारन आय दिन दुर्घटना होत रहत हवै एक महीना पहिले एक टैक्टर पलट गा रहै जेहिमा एक लड़का के तुरतै जान चली गे रहै अउर 14 मड़ई घायल होइ गे रहै। वन विभाग कइत से सड़क पास होय के बाद भी पी डब्ल्यू डी विभाग सड़क नहीं बनावत हवै। बरगढ़ वन क्षेत्र अधिकारी नरेन्द्र प्रताप त्रिपाठी का कहब हवै कि 2014 के सर्वे मा सड़क बने के मंजूरी दइ दीन गे हवै।

रिपोर्टर- सुनीता देवी

Published on Jul 21, 2017