लोकसभा चुनाव की रेस में दौड़ी समाजवादी पार्टी की साइकिल, देखिए महोबा जिले से

लोकसभा चुनाव कि तैयारी में समाजवादी सरकार कि साईकिल चल पड़ी है। 20 मई को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव महोबा पहुंचे। वहां वो उन किसानों के परिवारों से मिले जिन्होंनें कर्ज के लिये आत्महत्या किये हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का कहना है कि वो लोग जिन परिवारों से मैं मिला हूं। मृतक ठाकुरदार आहिरवार और राजबहादुर उनके परिवारों से मिलने का मुझे मौका मिला। हमारी पार्टी कि तरफ से एक लाख की कर्जमाफी मदद दी जायेगी। कार्यकर्ताओं के द्वारा कुछ पैसा इकटठा हुआ है। वो अभी मैंने किसानों को पच्चीस-पच्चीस हजार रूपये उनके हाथ में दे दिया है। हमारी सीमा है मदद करने कि अगर हमारी सरकार होती तो जितना होता खजाना खोल देते। मैं चाहता हूँ कि जो धोखा मिला कर्जमाफी को लेकर, तो सरकार उनकी मदद करे। जो सरकार कुत्तों से बच्चों को नहीं बचा पा रही हो। जो सरकार रेल कि पटरियों से बच्चों की जान नहीं बचा पा रही है। अभी पुल गिर दिया। इस बार कीसरकार से जनता बहुत नाराज है। लेकिन इस बार परिणाम समाजवादी के पक्ष में ही आयेगें।

मृतक राजबहादुर कि पत्नी ने बताया कि अभी पच्चीस पच्चीस हजार रुपिया दे गये हैं। अब जब समाजवादी कि सरकार बनेगें तो एक लाख रुपिया देंगे। लेकिन अभी इस समय पच्चीस हजार में क्या स्थिति सुधरेगी।

मृतक ठाकुरदास के पिता टुंडा ने बताया कि हमारे ऊपर पहले से तीन लाख रुपया का कर्ज था, लेकिन किसी ने माफ़ नहीं किया। इस कर्ज को चुकाने के लिये गांव कि जमीन गहने रखी है।  

रिपोर्टर: सुनीता प्रजापति

Published on May 21, 2018