‘लव-गुरु’- एपिसोड 36 क्या दीया के घरवाले मानेंगे उसकी बात या कर देंगे उसकी शादी?

सवाल:- हाय, मेरा सवाल आपको अजीब ज़रुर लगेगा लेकिन मैं सच में जानना चाहती हूं कि क्या शादी, एक लड़की की ज़िन्दगी पूरी करने के लिए ज़रूरी है? मेरा नाम दीया और मैं अभी 10वीं क्लास में पढ़ रही हूं। मेरी दीदी की शादी हो गयी है। अब घर पर मेरी शादी की बाते शुरू हो गयी हैं। मुझे शादी में कोई भी दिलचस्पी नहीं है।
जवाब:- दीया, माँ-बाप सोचते है कि वो अपने बच्चों की शादी कर दें और अपने फ़र्ज़ से मुक्त हो जाए। लेकिन जब आपको नहीं दिलचस्पी है तो आप मना कर सकती हैं और जो आपके सपने हैं उनके बारे में बता दीजिए कि आप क्या चाहती हैं। ज़िन्दगी पूरी करने के लिए कभी भी शादी जरुरी नहीं है। हमें अपनी ज़िन्दगी से जुड़ा कोई भी फैसला लेने का अधिकार है।
सवाल:- हेल्लो लव गुरु जी! क्या आप लड़का है या लड़की? मैं कई दिनों से सोच रहा हूं। आपके जवाबो को पढ़कर नहीं समझ आता। प्लीज बताइए। मेरी परेशानी ये है कि मुझे अपनी बुआ की लड़की से प्यार हो गया है। रात दिन उनके घर जाने के बारे में ही सोचता रहता हूं। क्या ये अजीब बात है?
जवाब:- हेल्लो जी, लड़की क्या लड़का क्या। मैं तो बस लव गुरु हूँ जहाँ तक आपके सवाल की बात है तो प्यार कभी ये देखकर नहीं होता कि सामने वाला भाई है या बहन? प्यार तो एक एहसास है जो किसी के साथ भी जुड़ जाता है। क्या हम अपने भाई-बहन से प्यार नहीं करते? करते हैं ना? ऐसे ही मान लीजिए कि आपको अपनी बुआ की लड़की से प्यार हो गया है। इसमें इतना सोचने वाली कोई बात नहीं है।

02/06/2017 को प्रकाशित