लव गुरु एपिसोड 23

सवाल:- लव गुरु, ये वैलेंटाइन डे ने बड़ा परेशान किया हुआ है। सभी दोस्त कह रहे हैं कि किसी लड़की को डेट पे ले जाना बहुत ज़रूरी है। पर मैं ऐसे किसी लड़की को नहीं जानता जिसे में रोज़ वगेहरा कुछ देना चाहू या उसे गोलगप्पे खिलाने ले जाऊ। हाँ, अपनी छोटी बहन के आलावा! अब आप ही बताओ, क्या करू? नाक कट जाएगी मेरी तो!- मोहन
जवाब:- क्या इस दुनिया में जितने लोग हैं सब लोग किसी लड़की को डेट पर लेकर जाते हैं। इस में नाक कटने जैसी कोई बात नही है। अगर आपकी बहन आपकी सबसे अच्छी दोस्त है, तो आप अपनी बहन को रोज़ दे सकते हैं और उन्हें बाहर खाना खिलाने भी लेकर जा सकते हैं। अपने दोस्तों से आप बोल सकते हैं कि आपकी ज़िन्दगी में ऐसी कोई लड़की नही है। और हाँ, प्यार के कई सारे रूप होते हैं, है ना?
सवाल:- हाय! मेरा नाम अंकिता है। मैंने पिछले लव गुरु में पढ़ा था आपने कहा था की ज़िन्दगी में बड़ो का साथ ठंडी परछाई की तरह होता है, लेकिन मेरे चाचा है जो मेरे कुछ ज्यादा ही करीब आने की कोशिश करतें रहतें हैं, आप समझ गए ना? मैं अब जल्द ही कॉलेज के लिए गाँव छोड़ कर जा भी रही हूँ। पापा कह रहे थे कि मुझे कॉलेज छोड़ने चाचा ही साथ जायेंगे। बहुत डर लग रहा है, और बता भी तो नहीं सकती पापा को।
जवाब:- अंकिता! ज़िन्दगी में बड़ों की साथ ठंडी परछाई की तरह होती है लेकिन आपही बताइए अगर ठण्ड में ठण्ड लगे तो खतरनाक होता है ना। अगर आपको लगा रहा है कि आपके चाचा ज्यादा करीब आने की कोशिश कर रहे हैं तो आप एक बार मम्मी पापा को इशारा तो करिए वो आपकी भावनाएं जरुर समझेंगे। और हाँ आप खुद से भी सावधान रहें।

17/02/2017 को प्रकाशित