‘लव-गुरु’। एपिसोड 27

सवाल:- हेल्लो! मेरा नाम जाहिरा है, और मैं अपनी छोटी बहन के लिए बहुत चिंतित हूँ। वो आजकल किसी लड़के के सपनो में खोयी रहती है, ना ठीक से बात करती है, और ना ही अपनी पढ़ाई में ध्यान देती है। मैं भी उसे पढ़ाती हूँ, और इसलिए मुझे पता है कि आजकल पढ़ाई के नाम पे तो वो दिन में सपने ही देखती है! सोच रही हूँ लड़के के बारे में पता करके उसको जाकर अच्छे से खरी-खोटी सुनाओ. ठीक होगा ये प्लैन?
जवाब:- जाहिरा, समझ सकते हैं कि आप अपनी बहन के लिए चिंतित हैं, इसलिए ऐसे कह रही हैं। अक्सर दीदियाँ ऐसे ही सोचती हैं, और इसमें कोई खराब बात नहीं। पर आप उनसे पहले बात तो करें, आखिर आपकी बहन है, किसी और से बात करने से पहले बेहतर होगा क्यूँ?
और हाँ, प्यार से करना, डांट कर नहीं, वर्ना आपको पूरी बात वो कभी नहीं बताएगी! जब उसको अगली बार पढ़ाये, तो ये बात याद रखें, जाहिरा। अपना भी कोई अनुभव याद करिए प्यार और दिल के मामले में। ऑल द बेस्ट!

सवाल:- जब एक लड़की किसी लड़के से प्यार करे, तो क्या वो उस लड़के में अपने पिता जैसे गुण ढूंढती हैं? और अगर वो उनके जैसा ना निकले तो? प्लीज बताइए, लव गुरु जी!
जवाब:- प्यार करने के लिए अपना व्यक्तित्व खोना, तो प्यार नहीं हुआ, ना? अगर वो आपसे प्यार करती है,
पर हाँ, अपने आप को बेहतर करने में कोई बुराई नहीं। वो तो वैसे भी ज़िन्दगी का एक उद्देश्य होना चाहिए।
24/03/2017 को प्रकाशित