लव की ‘एक्स्ट्रा-क्लास’ लव गुरू – एपिसोड 4

आपके मन की उलझनों को दूर करने के लिए आ गया है ‘लव-गुरु’। लव-गुरु से सवाल पूछने के लिए आपके कई खत मिले, जिनमें से हमने दो सवालों को चुना है। आइये जानते हैं लोगों के सवालों का लव-गुरु ने क्या दिया है जवाब…
सवाल– मै पास के गाँव के एक लड़के से 3 साल से प्यार करती हूँ। वो भी मुझसे उतना ही प्यार करता है लेकिन हमारे परिवार वाले हमारी शादी के लिए नहीं माने, इसलिए पिछले साल हमने फैसला किया कि हम जीवन साथी न सही पर दोस्त बन कर रहेंगे। मेरे कहने पर ही उसकी शादी पक्की हो गयी है। अगले महीने उसकी शादी है पर मुझे अजीब सी बेचैनी हो रही है, अब मैं क्या करूं, कुछ समझ नहीं आ रहा?
रेशमा महोबा
जवाब- रेशमा, आप सच में बहादुर हैं, जो आपने इतना बड़ा फैसला लिया! आपकी स्थिति में एक बात कह सकते हैं – आप कुछ महीनों के लिए अपने को कुछ ऐसे कामों में लगा ले जो आपको पसंद हों, जिससे आपका ध्यान दूसरी चीजों में लगा रहे। दूसरे से प्यार करने के चक्कर में खुद से प्यार करना मत छोड़ें।
सवाल- मेरे घर के सामने एक लड़की रहती है उसमें एक अजीब सा आकर्षण है। वो जब भी निकलती है, मैं किसी बहाने से खिड़की या छत पर चला जाता हूँ और उसे देखता रहता हूँ। मैंने कई बार उसे अपने दिल की बात बतानी चाही पर ये सोच कर रुक जाता हूँ कि कहीं उसे बुरा लगा तो, प्लीज बताएं, मैं क्या करूं।
अजहर, नरैनी
जवाब-अज़हर, हम पूछना चाहते हैं कि क्या आप उस लड़की से प्यार करते हैं या ये सिर्फ आकर्षण है?इस बात का पता लगाने के लिए आप कुछ दिन खुद को अन्य कामों में व्यस्त रखें। फिर देखें क्या आप उसे देखे बिना नहीं रह पा रहे हैं? जरूरी बात ध्यान रखें कि प्यार दो इंसानों की रजामंदी का फैसला है इसलिए उस लड़की की हां या नहीं को भी अहमियत दें।

21/09/2016 को प्रकाशित

खबर लहरिया अपने युवा पाठकों के लिए लाया है एक खास तोहफा! जी हाँ, हमारे सभी युवा साथियों के दिल की बात सुनने के लिए हम उन्हें एक दोस्त ‘लव-गुरु’ दे रहे हैं। जिससे आप अपने प्यार की, दोस्त की, सपनों की और अपने मन की बात बेहिचक कर सकते हैं और इसके लिए आपको लिखने हैं अपने सवाल। जिनके जवाब देगी ‘लव-गुरु’।

एपिसोड 4