ललितपुर जिले के जखौरा गाँव में गलत निगाह से देखते हैं लोग, जब शौच के लिए बाहर जाती हैं बहू-बेटियां

बहु-बेटी दूर ज जायें शौचालय घर में बनवायें स्वच्छता के लिए प्रेरित करने वाले इस नारे की गूंज से जिला ललितपुर, ब्लाक महरौनी, गांव जखौरा के लोग आज भी अनजान बने हैं। शौचालय न बनने से बहु-बेटियों को बाहर भेजने में लोगों के अंदर अनहोनी का डर बना हुआ है।
रजन का कहना है कि हमारे घर और मुहल्ले की बहु-बेटियां जब शौच के लिए जाती है तो दारू और जुवा वाले परेशान करते है और गलत निगाह से देखते हैं। समय के हिसाब से इस समय शौचालय बनवाना बहुत जरूरी है। नत्थी बाई का कहना है कि हम दो देवरानी-जेठानी है किन्तु शौचालय एक भी नहीं है। हमारे घर में सयानी बहु और बेटियां है लेकिन इनके लिए शौचालय की कोई व्यवस्था नहीं है। हम शौचालय नहीं बना प् रहे है और न सरकार हमें दे रही है। नर्वदा ने बताया कि जब से शादी हुई है तब से शौच के लिए बाहर जाते हैं तो लोग गाली देते हैं।
रोजगार सेवक खेमचंद ने बताया कि हमारे गांव में पिछले और इस साल के मिलाकर दो सौ छाछढ शौचालय हैं एक परिवार के लिए एक शौचालय है। परिवार अलग-अलग है तो अलग शौचालय बनेगा।बजट न होने के कारण शौचालय अभी नहीं बन रहे हैं।
एडीओ पंचायत फूलचन्द का कहना है कि सभी पात्र लोगों को शौचालय बनायें जायेगें। जिन लोगों के नहीं बने हैं उनके भी बनाये जायेगें।

रिपोर्टर- सुषमा

Published on Apr 5, 2018