ललितपुर जिले के आजादपुरा मोहल्ले में मिली एक हफ्ते पुरानी लाश

ललितपुर जिले के आजादपुरा मोहल्ले के एक घर में एक हफ्ते पुरानी लाश मिली। पड़ोसियों की शिकायत पर पुलिस ने घर का दरवाजा तोड़कर लाश को बाहर निकाला। लाश अरविन्द संजय नाम के व्यक्ति की है। जो मानसिक रूप से बीमार था। पड़ोसियों के अनुसार अरविन्द उनको महीने भर से नहीं दिखा था। अरविन्द के रिश्तेदार में केवल उसके चाचा आनन्द काशीराम थे, जबकि उसकी पत्नी बहुत साल पहले ही उसे छोड़कर चली गई थी।

उत्तम कुशवाहा ने बताया कि परिवार वालों ने बहुत साथ दिया है। पिछले साल दवा भी करवाए थे। एक दो महीने ठीक भी था, लेकिन उसके बाद फिर उसी तरह हो गया। एक हफ्ता से यहाँ बदबू आ रही थी। तो मोहल्ले वालों ने पुलिस को फोन कर बुलाया। पुलिस आई और परिवार वालों को फोन कर बुलाया फिर उसके बाद लाश को ले गई। अरविन्द संजय की शादी भी हुई थी, लेकिन उसकी पत्नी घर छोड़कर चली गई। हुकूम सिंह का कहना है कि आधा शरीर सड़ गया था और पूरा नीला पड़ गया था। दिमाग भी ठीक नहीं था और लगभग पन्द्रह दिन से बाहर नहीं देखें हैं। मृतक का चाचा आनन्द काशीराम ने बताया कि कोई लड़ाई झगड़ा हमारे सामने तो नहीं हुआ है। दिमागी संतुलन ठीक नहीं था। उससे लोग डरते थे, बातचीत नहीं करते थे। वह लोगों को गाली गलौज भी करता रहता था। लोग उससे परेशान थे।

सीओ हिमांशू का कहना है कि लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही साफ तौर पर बताया जा सकता है, कि हत्या है या आत्महत्या।

रिपोर्टर: कल्पना

Published on May 28, 2018