ललितपुर जिले का खिरिया गांव, अमीरों के कर्जमाफ, गरीब कर्ज के चंगुल में

जिला ललितपुर, ब्लाक महरौनी, गांव खिरिया। यहां के किसानों का कहना है कि हम बहुत परेशान है कि अमीरों को कर्जमाफी से राहत मिली है लेकिन यहां के अस्सी प्रतिशत लघु सीमांत किसान आज भी कर्ज के दलदल में हैं प्रधान प्रतिनिधि ओमप्रकाश का कहना है कि कर्जमाफ़ी के लिए सभी जाति के किसान हैं  अस्सी प्रतिशत सभी लघुसीमांत किसानों के कर्ज माफ़ होने चाहिये 2019 तक सभी के कर्ज माफ़ हो जायेंगे रामबाई ने बताया कि दस बारह लोग जो बहुत ज्यादा गरीब हैं उनका कर्जा माफ़ नहीं हुआ है इस साल हमारी कोई फसल नहीं हुई है मसूर,उरदा,चना,मटर,किसी चीज की फसल नहीं हुई है कैसे कर्जा चुकाएं और कैसे अपने बच्चें पाले हमारे पास तो कुछ नहीं है बैंक में कई बार पासबुक और आधारकार्ड लेकर गये हैं लेकिन बैंक वाले कुछ नहीं सुनतें हैं जानकी ने बताया कि बड़े लोगों का कर्जा माफ़ हो गया है हम गरीबों का कर्जा अभी भी नहीं माफ़ हुआ है कर्जमाफी के लिए बैंक में पता करने जाते हैं तो बैंक वाले कहतें हैं कि दूसरी लिस्ट में तुम्हारा नाम आयेगा अभी तक बैंक के कई चक्कर लगा चुके हैं शंकर का कहना कि मेरे पास सवा एकड़ जमीन है और कर्जा तीन लाख रूपये है बैंक वाले कर्जा के बारे में कुछ नहीं बताते हैं
एस.डी.एम धीरेन्द्र प्रताप का कहना है कि कर्जमाफी के लिए जो दरखास आती हैं उनकी जांच करा के बैंक और डी.एम के पास भेज दिया जाता है कर्जमाफी के बारे में लोगों को सही जानकारी मिले इसके लिए मीटिंग की जाएगी
रिपोर्टर-सुषमा

Published on Nov 27, 2017