ललितपुर के सतवांसा गाँव में पैसे दो, राशन लो

जिला ललितपुर, गांव सतवासा के कोटेदार नंदकिशोर राशन बाँटबे में खुले आम रुपजा लेत जा बात ललितपुर के पूरे आदमियन ने बताई अगर कोऊ जा बात को िवरोध करे तो नंदकिशोर को लड़का मारबे के लाने आ जात इते के प्रधान ने भी जा बात कई के राशन कोटेदार से सब परेशान है।
गांव के आदमी और ओरतन ने बताई के राशन लैबे जाओ सो कोऊ से 10 कोऊ से 20 कोऊ से 30रुपजा मागत केत के भाड़े के रुपजा देओ और कोऊ को देत राशन कोऊ को नई देत कोऊ को 1 किलो शक्कर कोऊ को बई नई देत और 18 किलो गेंहु और 7500 ग्राम चावल देत केवल और बई में तोल भी कम देत उनसे कओ सो कत के बीस बीस रुपाया में तुमाओ का हो रओ पेले तो सौ दो सौ रुपजा लगत ते तब कछु नई होत तो
ई गांव के रेबे वाले पृथ्वीराज ने बताई के हमाओ तो अन्तोदय कों कार्ड बंद कर दओ और सावित्री विमला ने बताई के हमाओ तो परमिट काट दओ अब कत के नईया गल्लो और नुरन ने बताई के हमाय घर में पांच आदमी हैऔर तीन अदमियन कों कार्ड बनो कत के और कोऊ को परमिट नईया तो किते से दे
और गारी देंन लगत और उनको लड़का मार बे आ जात और कोटे दार ने बताई के हम तो सबको देत जो कछु आत न भाड़े के रुपजा लेत और अबे तक कम से कम बयालीस आदमियन के कार्ड बने और सबको गल्लो तेल चावल शक्कर बांटत और सब जने ई को लाभ ले राए।
20/07/2016 को प्रकाशित

ललितपुर के सतवांसा गाँव में पैसे दो, राशन लो
विरोध करने पर पीटे जाओगे