ललितपुर के लाल..

जिला ललितपुर, ब्लाक महरौनी, गांव गौना आज भी अपने देश में संगीत कलाकार हे जो अपनी कलाकारी से आदमियन को मनोरंजन करत और अपनी कला दिखात।
एसे ही इते के आदमियन को कबो हे के गौना के छक्की लाल और महरौनी की मनीषा इते की शान हे।
छक्की लाल ने बताई के हमे बचपन से शौक हतो संगीत सीखबे को सो हमने पढई करी और अपने घर पे ही संगीत सीखो।
संगीत करबे के लाने हम ओरे सागर, विदिशा, छतरपुर, जबलपुर टीकमगढ, झांसी जात। बाहर भी जात बड़ी बड़ी मंच पे संगीत करबे के लाने देहात में भी जात सरकारी कार्यक्रम में भी जात संगीत करबे के लाने।
बैसे हम भारत सरकार से जुड़े हे हम छतरपुर आकाशवाणी के आर्टिस्ट हे। हम कम से कम 20 साल से आकाशवाणी पे गा रए। उते से हमे रुपईया भी अच्छे मिलत एक रिकार्डिंग के दस हजार रुपईया मिलत।
मनीषा परिहार ने बताई के हम चार साल से संगीत को काम कर रए हम मंच पे संगीत गात बुन्देलीगीत, लोगगीत, भजत, कीर्तन, जी मे आठ आदमी रत हमे तीन हजार रुपईया मिलत।
हमाई मताई भी गात हमाई छोटी बहन भी गात और हमे बाप किसानी करत। संगीत से भोत सम्मान मिलत और जघा जघा घूमबे को मौका मिलत अच्छे अच्छे आदमी से मिलत।

रिपोर्टर- राजकुमारी 

28/09/2016 को प्रकाशित