ललितपुर के कोरवास गाँव में सहरिया आदिवासियों को नहीं मिल रहे गैस कनेक्शन

जिला ललितपुर, गांव कोरवास में सहरिया आदिवासियन को कैबो है के के उने गैस को कनेक्शन नई मिल रए जबकि बड़ी जाती के अदमियन को गैस कनेक्शन मिल गओ और हमे अबे तक नई मिलो आदिवासी महिलाओ का कैबो है के प्रधान राघवेन्द्र शराब पियत है और ई बजे से बासे बात करबो मुश्किल है।
प्रेमबाई और फूलबती ने बताई के फार्म भरे सब करो लेकिन कछु नई मिलो गांव में सब को मिल गए हम आदिबसियन को नई मिलो।
बसेई तो ईधन नईया धुँआ में रोटी करत परेशान होत पानी बरस जात सो बोई नई मिलत धुँआ के मारे आंखे पिराती सर में दर्द होत हारे जात उते से जब लकडियाँ लेके आत जब हम रोटी कर पात नई मिलत तो रोटी नई बना पात भूके सोने परत अब जंगल नईया तो जादा लकडिया भी नई मिलती।
पारवती ने बताई के प्रधान ने फार्म भरबाओ और 500 रुपजा दए ते के तुमनो रुपजा नई या तो हम दे देरए जब तुमनो हो जाबे सो दे दीई उनने कई जी के अन्तोदय के कार्ड है बई को मिले।
गेंदाबाई और ममता ने बताई के सबके फार्म भरे ते और सबके 50-50 लगे ते और अब कत के केबल उने मिल रए जिनके पेले फार्म भरे ते 2010 में।
तुमाओ बा में नाम नईया लिस्ट में तुमे नई मिले अबे।
21/07/2016 को प्रकाशित

ललितपुर के कोरवास गाँव में सहरिया आदिवासियों को नहीं मिल रहे गैस कनेक्शन
शराबी प्रधान से फ़रियाद करना भी मुश्किल