ललितपुर की आंगनबाड़ी जहां नहीं मिलता पोषाहार

ग्रामीण स्वास्थ्य को पटरी में लाने के लिए आंगनबाड़ी व्यवस्था बनी है। ललितपुर जिला के ब्लाक महरौनी के गांव खिरिया लटकनजू में यह व्यवस्था खुद ही पटरी से उतरती नजर आ रही है। यहां के लोगों को एक साल से आंगनबाड़ी की तरफ से पोषाहार नहीं मिल रहा है।
सुहाग रानी का कहना है कि किसी को कुछ नहीं दिया जाता है। सुनीता और बती ने बताया कि गर्भवती महिलाओं को भी कुछ नहीं दिया जाता हैं। हम जानते ही नहीं है कि यहां क्या मिलता है। जब पंजीरी लेने जाते हैं तो कह देते हैं कि खत्म हो गई है, अगले महीने मिलेगी। सगुन ने बताया कि दो-तीन बार गये है तो पंजीरी नहीं मिली है, इसलिए अब नहीं जाते हैं।
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कुंवर बाई का कहना है कि जब धरना था तब दो महीने पंजीरी नहीं मिली है। प्रभारी सी डी पी ओ रामवती का कहना है कि ऐसा कुछ नहीं है, लोगों को पंजीरी दी जाती हैं।

रिपोर्टर- सुषमा

Published on Mar 6, 2018