लड़की वालों का आरोप, प्रेम में फंसाकर लिया जान, पांच महीने बाद भी नहीं कोई सुनवाई, बांदा की कहानी

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, कस्बा नरैनी पांच महीना पहिले 16 फरवरी का अनिल बाबू लड़की का प्रेम मा फंसा के वहिके हत्या कइ दिहिस रहै। लड़की के परिवार वालेन का कहब है कि हमार लड़की का जान  से मारे के बाद आरोपी खुले मा घूमत है अउर हमें धमकी देत है। पुलिस अबै तक कउनौ कारवाही नहीं करिस आय। नरैनी एस.ओ अजय सिंह चौहान कहब है कि या केस के विवेचना चलत है जल्दी कारवाही कीन जई।जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, कस्बा नरैनी पांच महीना पहिले 16 फरवरी का अनिल बाबू लड़की का प्रेम मा फंसा के वहिके हत्या कइ दिहिस रहै। लड़की के परिवार वालेन का कहब है कि हमार लड़की का जान  से मारे के बाद आरोपी खुले मा घूमत है अउर हमें धमकी देत है। पुलिस अबै तक कउनौ कारवाही नहीं करिस आय। नरैनी एस.ओ अजय सिंह चौहान कहब है कि या केस के विवेचना चलत है जल्दी कारवाही कीन जई। लड़की के महतारी रानी बताइस कि जबै घटना भे रहै तबै हम रपट लिखावे गये रहेन तौ दरोगा कहत रहै कि हमें नवा साल नींकतान मना लेन देव फेर काम करबै। तबै से कइयौ दरकी दरखास दें के बाद भी पुलिस कुछौ कारवाही नहीं करिस आय। लड़की का दादा बाबूलाल अउर बाप छोटेलाल का कहब है कि हमार केस मा दलाली कीन गे है। हमें समझौता करे का कहा जात है। अनिल ऊंच जाति का आय। अउर हम दलित जाति के आहीं यहै कारन हमार कत्तौ सुनवाई नहीं भे आय। एस. ओ कमिश्नर यस.पी सगले गुहार लगाये हन पै गंदी गाली के आलावा कुछौ नहीं मिला आय।  हमार इज्जत चली गे हमार लड़की का भी जान से मार  डालिन है। अब हम मुख्यमंत्री योगी जहां रहत होइगे हुंवा जइबैआपन नियाव के गुहार लगइबै।

रिपोर्टर- गीता

Published on Jul 18, 2017