लड़की खा नई मताई खा बना दओ वारिस

तहसील दिवस में लगी भीड़
तहसील दिवस में लगी भीड़

जिला महोबा, ब्लाक कबरई, गांव खन्ना। एते की सीमा सिंह पुत्री रामलगन सिंह आरोप लगाउत हे कि लेखपाल पदम सिंह ने मोये बाप की जमीन खा मोये दादी के नाम कर दई हे। जीसे सीमा ने अपने बाप को हिस्सा लेय ओर लेखपाल के ऊपर कारवाही करें खे लाने 21 अक्टूबर 2014 खा तहसील में दरखास दई हे।
सीमा सिंह बताउत हे कि मोये बाप खा मरे 3 साल हो गये हे। बाप के राशन कार्ड में मोओ नाम बस चढ़ो हतो। मोये बाप की 30 बीघा जमीन हे जोन लेखपाल ने पूरी जमीन दादी रामदुलारी के नाम कर दई हे। जीसे ऊने पूरी जमीन आपने दूसरे लड़का कि लड़कन खा दे दई हे ओर कछू बेंच दई हे। में लेखपाल से कहत हों तो ऊ कहतहे की तोई शादी हो गई हे जमीन तोये नाम न आहे।
लेखपाल पदम सिंह बताउत हे कि सरकारी नियम में अगर लड़की कुवांरी हे तो ऊ वारीस हो जात हे नई तो ऊ जमीन की वारीस ऊखी मताई होत हे। एई कारन हे कि सीमा की शादी होंय के कारन ऊ जमीन सीमा खा न मिल के ऊखे दादी के नाम हो गई हे। अगर दादी चाहे तो सीमा के नाम कर सकत हती। पे अब जमीन बेंच दई हे, कछू नई हो सकत हे।