लखनऊ के एसपी राजेश साहनी ने की आत्महत्या

साभार: फेसबुक

लखनऊ एटीएस में तैनात अपर पुलिस अधीक्षक राजेश साहनी ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है।
इस खबर के बाद महकमें में हड़कंप मच गया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।
सूत्रों के अनुसार, राजेश साहनी 1992 में पीपीएस सेवा में आए थे। 2013 में वह अपर पुलिस अधीक्षक के पद पर प्रमोट हुए थे।
एटीएस में रहते हुए राजेश साहनी ने कई बड़े कारनामों को अंजाम दिया। इस दौरान उन्होंने कई आतंकियों को गिरफ्तार करने में सफल भूमिका निभाई। राजेश साहनी एटीएस के तेज तर्रार अफसरों में से एक माने जाते थे।
अभी पिछले हफ्ते ही एटीएस टीम ने मिलिट्री इंटेलिजेंस और उत्तराखंड पुलिस के साथ मिलकर संदिग्ध आईएसआई एजेंट रमेश सिंह को गिरफ्तार किया था।
राजेश काफी समय से तमाम आतंकी संगठनों के स्लीपर मॉड्यूल और भारत में आतंक की साजिशों को बेनकाब कर रहे थे।