लकड़ी ही नहीं स्टील की कारीगरी के लिए मशहूर हैं ललितपुर जिले के मोहम्मद सलीम

ये खूबसूरत कारीगरी है ललितपुर जिले के मोहम्मद सलीम जो लकड़ी ही नहीं स्टील की कारीगरी के लिए मशहूर है।

बढ़ई मोहम्मद सलीम ने बताया कि फर्नीचर का पूरा काम कर लेते हैं। जैसे की महाराजा गेट, किचन, रानी बेड, ये सब बना लेते हैं। लकड़ी वुडिंग लगाकर बनाते हैं। हम इसका काम बारह साल की उम्र से करते हैं। ये काम मेरे परिवार में कोई नहीं करता था। मैं इंदौर,भोपाल, ये काम करता था, धीरे-धीरे इसको सीख गया और बस अपनी दुकान खोलकर ये सामान खुद बनाने लगा। इसका सामान राजकोट, इंदौर, झाँसी, अहमदाबाद, से लाते हैं। जहां से हमें सस्ता पड़ता है, हम वही से ये सामान लाते हैं। जैसे सामान कम ज्यादा होता है, तो उसी हिसाब से काम कर लेते हैं। एक पलंग में कम से कम तीस से चालीस किलो स्टील लग जाता है। हम कष्टमर के आर्डर देने पर भी सामान बनाते हैं। इस सामान को खरीदने के लिए 100 से 125 किलोमीटर तक के लोग आते हैं। कुछ गांव है जैसे टीकमगढ, चंदेली, महरौनी, अंडवारा, आदि गांव के लोग आते हैं।

रिपोर्टर: सुशीला

Published on May 9, 2018