रास्ता बंद, तो काम बंद, चित्रकूट ज़िले के भर्कोरा दलित बस्ती में

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, गांव भरकोर्रा हिंया के दलित बस्ती का रास्ता बंद कइ दीन गा हवैं। जमीन मालिक मुकदमा जीते के बाद रास्ता बंद करा दिहिस हवैं। लगभग तीस साल से मड़ई या रास्ता से आवत जात रहै। अब रास्ता बंद होय से दलित बस्ती के मड़ई निकले खातिर तरसत हवै।
कमल अउर रामप्रसाद का कहब हवै कि 6-7 दिन होइ गे हवै। रास्ता बंद होय से मड़ई निकले खातिर तरसत हवै। पहिले वहिके खेत के भीतर से मड़ई निकल जात रहै गाली मार भी वहिके सहत रहै। वहिके खेत का नुकसान होत रहै यहै कारन वा रास्ता बंद करा दिहिस हवै।
मड़ई टट्टी,पेशाब करै खातिर तरसत हवै रास्ता बंद होय से कुछ मड़ई तौ घर मा बेड़े रहत है,निकले का कउनौ रास्ता नहीं आय।
छोटी बताइस कि जमीन मालिक मुकदमा जीत गा हवै यही कारन रास्ता बंद करा दिहिस हवै।
फुलमतिया बताइस कि चार-पांच दिन से बेड़े हन,दूसरे के घर से निकलित हन पै उंई रोज रोज निकले नहीं देत हवैं। दुसरेन के घर के ऊपर से खाना पानी आवत हवै टट्टी पेशाब जाय खातिर बहुतै दिक्कत होत हवै। रास्ता बंद होय से हमे बहुतैपरेशानी हवै
जमीन मलिक कुलदीपक द्विवेदी का कहब हवै कि आपन जमीन का मुकदमा लड़त रहेंव जबै मुकदमा जीत गये हौं तौ पुलिस बल लइके रास्ता बंद करा दीने हौं।
कानून गो देवपाल का कहब हवै कि जमीन गांव सभा के होइ तौ रास्ता खुलवा दीन जई।

रिपोर्टर- सहोद्रा देवी

27/03/2017 को प्रकाशित