रास्ता खे लाने करत लड़ाई

उर्मिला
उर्मिला

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी, गांव गोरखा। एते की उर्मिला ओर लक्ष्मी कुशवाहा के बीच 23 मार्च 2014 खा लड़ाई भई हे। जीखी सूचना उर्मिला ने 24 मार्च 2014 खा चरखारी कोतवाली में दई हे, पे रिपोर्ट नई लिखी आय।
उर्मिला ने बताओ कि मोये बाप रामेश्वर खे एकऊ लड़का नइयां। जीसे में 10 साल से अपने बाप खे एते रहत हों, ओर खेती कराउत हों। तीन महीना पेहले मेंने अपनो पुरानो घर गिरा के पक्को घर बनाओ हतो। अब ऊमें लेन्टर पर गओ हे तो दरवाजा करें में लक्ष्मी लड़ाई करत हे। कहत हे कि अगर ते दरवाजा कर लेहे तो रास्ता किते से निकरहे। जभे कि लगभग पन्द्रह फुट की रास्ता पेहले से मेंने छोड़ दई हे।
लक्ष्मी बताउत हे कि हमाओ समझौता 22 नवम्बर 2013 खा हो चुको हतो, पे उर्मिला ने आपन दीवार छोड़ के आगे से रास्ता दबा के दीवार ठाढ़ कर लई हे। अब ओते से दरवाजा कर लेहे तो रास्ता को का होहे। एईसे में दरवाजा नई करे देत हों।
चरखारी कोतवाली के प्रभारी आर.एस.एस. तिवारी ने बताओ कि उर्मिला ने सूचना दई हती। दोनऊ पक्षन खा बोला के समझौता कराओ जेहे। लक्ष्मी न मानहे तो कारवाही करी जेहे।