राजस्थान में मंगनियार संगीत के लोक गायक की हत्या

फोटो साभार: विकिपीडिया

राजस्थान के दांतल गांव में जागरण के लिए आए लोक कलाकार आदम खान को गांव के मंदिर के पुजारी के खानदान के सदस्य ने मार दिया। कारण ये बताया गया की उसका गीत सुनने वालों को पसंद नहीं आ रहा था।
दरअसल, राजस्थान के जैसलमेर जिले के दांतल गांव में लोक गायक अहमद खान एक धार्मिक कार्यक्रम में भजन गा रहे थे। पुजारी रमेश सुथूर ने गायक के भजन में कुछ गलतियों को लेकर टोका जिसके बाद दोनों के बीच विवाद हो गया। इसके बाद पुजारी रमेश सूथार और उसके साथियों ने अहमद खान के वाद्य यंत्र तोड़े और उसकी हत्या कर दी। कलाकार की हत्या के बाद गांव के मंगनियार गायक परिवारों ने गांव छोड़ने का फैसला लिया है।
अहमद खान लंगा मांगणियार समुदाय के सदस्य थे, जो पीढ़ियों से हिंदु धार्मिक कार्यक्रमों और मंदिरों में भजन गाते आये हैं।
गांव के भोपा समुदाय का मानना है कि इस गीत को सुनने से उनके शरीर में देवी की शक्ति आती है। जब आरोपी भोपा यानी पुजारी रमेश कुमार को लगा कि आमद खान ठीक ढंग से देवी गीत नहीं गा रहा है तब उसने अपने भाइयों के साथ मिलकर कथित तौर पर अहमद खान पर हमला कर दिया। बाद में उसकी मौत हो गई।
फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।