राजकोट में आरटीआई कार्यकर्त्ता की हत्या, गाँव का सरपंच शामिल

सूचना के अधिकार(आरटीआई) के तहत जानकारी मांगने वाले कार्यकर्त्ता की 11 मार्च को छह हमलावरों द्वारा हत्या कर दी गई।
पुलिस ने मृतक की पहचान राजकोट जिले के कोटधा सांगानी तालुका में नैनजी सोंदावा (35), मानेकावाड़ा गांव के एक निवासी के रूप में की है।
नानजी के पिता मेघभाई सोंदावा की शिकायत पर पुलिस ने छह आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पिता का आरोप है कि  उनके गांव में बन रही है एक नवनिर्मित सड़क पर कथित वित्तीय अनियमितताओं का ब्योरा मांगने के चलते छह लोगों ने मिल कर उनके बेटे की हत्या कर दी।
बता दें कि इस मामले में मुख्य आरोपी महेंद्रसिंह जडेजा मानेकावाड़ा गांव का सरपंच है। अपनी शिकायत में मेघभाई ने आरोप लगाया कि महेंद्र सिंह की अगुआई में अन्य आरोपीयों ने नानजी को मार डाला क्योंकि उनके खिलाफ आरटीआई आवेदन पत्र दाखिल कर, उनकी शिकायत हुई थी।
इस बीच, नानजी के परिवार ने उनका स्वीकार करने से इनकार कर दिया और कहा कि वे ऐसा नहीं करेंगे जब तक इस मामले में सभी अभियुक्तों को गिरफ्तार नहीं किया जाता।