राजकीय होम्योपौथिक अस्पताल जर्जर

kasbaजिला फैजाबाद, ब्लाक मया, कस्बा गोषाईगंज राजकीय होम्योपैथिक अस्पताल। ई अस्पताल पचपन साल पुरान होइगै बाय। जर्जर घोषित भये के बादौ दूसर नाय बना।
बनघुसरा कै संतोष, षिखर बताइन कि हमरे सब हिंआ साल भर से दवा लियै आई थी। यकरे पहिलेन से जर्जर घोषित कै गै बाय। छत अउर दीवार मा दरार फाट गै बाय। कुछ पता नाय कि कब गिर जाए। महमदपुर कै आषा, सरिता बताइन कि जवन डाक्टर अच्छा उपचार कराथिन वहीं सुविधा नाय रहत। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बगलै बना बाय लकिन वहमा दवाई नाय मिलत। मरीज यहर-वहर भटकाथिन।
राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सा प्रभारी रामकुमार गुप्ता बताइन कि जर्जर भवन घोषित भये के बाद हम दवा करत हई। काहे से अबहीं उचित जमीन नाय मिलत बाय। सरकारी पैसा यतना नाय आवत कि किराया कै कमरा लै सकी। एस्टीमेट बनायके विभाग मा भेज देहे हई।