योगी भी नहीं बचा पाए किसान को, उनके दौरे से एक दिन पहले महोबा के किसान ने की आत्महत्या

जिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, गांव लाडपुर। किसानों की सहायता के लिए हर साल बजट में कोई न कोई नई  योजना होती है फिर भी किसानों की आत्महत्या नहीं रूकती हैं।ऐसा ही हुआ है लाडपुर गांव में जहां विनोद नाम के किसान ने कर्ज के कारण फांसी लगा लीपी.सी.एस जंग बहादुर यादव का कहना है कि किसानों को गलत कदम नहीं उठाना चाहिएकिसानों की पूरी सहायता की जाती हैं
विनोद के भाई राजेश ने बताया कि विनोद तीन साल से परेशान था उसके ऊपर बैंक और साहूकारों का कर्जा थाजब में खेत में पानी लगा रहा है था,तब उसने फांसी लगा लीमां मन्नू देवी ने बताया कि विनोद ने जब फांसी लगाई थी उस समय घर में कोई नहीं था
विनोद के दोस्त अभिलाष ने बताया कि विनोद ने कुछ दिनो से बोलना बंद कर दिया था
प्रधान प्रतिनिधि ओमप्रकाश का कहना है कि विनोद को कर्ज माफी प्रमाण पत्र तो मिल गया था,पर बैंक ब्याज की रकम मांग रहा था

बाईलाइन-श्याम कली

25/10/2017 को प्रकाशित