येदियुरप्पा के बेटे को नहीं मिला टिकट, समर्थकों ने किया हंगामा

साभार: विकिपीडिया

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने अपनी चौथी लिस्ट जारी की है, जिसमें उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा के बेटे विजयेंद्र को टिकट नहीं दिया गया। टिकट नहीं मिलने से विजयेंद्र के समर्थक नाराज हो गए और जमकर विरोधप्रदर्शन किया।
बीएस येदियुरप्पा ने कहा, ‘मेरा बेटा चुनाव नहीं लड़ने जा रहा। यह मेरा निजी फैसला है, इस फैसले के लिए मुझ पर शीर्ष स्तर या आरएसएस की तरफ से कोई दबाव नहीं डाला गया।
येदियुरप्पा की ओर से विजयेंद्र के चुनाव नहीं लड़ने के ऐलान के बाद उनके समर्थकों ने हंगामा कर दिया। विजयेंद्र के समर्थक चाहते हैं कि पार्टी की ओर से उन्हें चुनाव लड़ने के लिए टिकट दिया जाए।
चौथी लिस्ट में जर्नादन रेड्डी के एक और रिश्तेदार को टिकट दिया गया है। इससे पहले उनके 2 भाइयों को भी टिकट दिया जा चुका है। रेड्डी के रिश्तेदार लालेश रेड्डी को बंगलुरू के बीटीएम लेआउट विधानसभा क्षेत्र से टिकट दिया गया है।
येदियुरप्पा ने कहा, ‘मैं वरुणा के लोगों से माफी मांगता हूं।विजयेंद्र को टिकट नहीं दिए जाने पर मैसूर में उनके समर्थक जमकर हंगामा कर रहे हैं।
बीजेपी की जारी लिस्ट के आधार पर पार्टी अब तक 224 सीट वाली विधानसभा में 220 उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है, और माना जा रहा था कि वरुणा सीट से येदियुरप्पा के बेटे विजयेंद्र को टिकट दिया जाएगा।
दिलचस्प बात यह है कि वरुणा सीट से राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के बेटे यतींद्र चुनाव लड़ रहे हैं। राज्य में मतदान 12 मई को होंगे, जबकि परिणाम 15 मई को आएंगे।