यूपी में भारी बारिश में जन जीवन अस्तव्यस्त, 85 मौतें और कई घायल

भारी बारिश के कारण यूपी में पिछले 24 घंटों में 15 लोगों की मौत हो चुकी है। बारिश की वजह से अब तक कुल 85 लोगों की मौत हो चुकी है, कई लोग घायल हो चुके हैं।

प्रशासनिक जानकारी के अनुसार, करीब 500 घरों को नुकसान पहुंचा है। साथ ही सैकड़ों पशुधन की भी मौत हुई है। मौसम विभाग ने पश्चिमी और पूर्वी यूपी में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

वाराणसी में गंगा के बढ़ते जल स्तर को देखते हुए जिला प्रशासन ने राहत और बचाव कार्यों के लिए 48 नावों को रिजर्व रखा गया है। केंद्रीय जल आयोग के रिपोर्ट के अनुसार, जल स्तर 65.83 मीटर रिकॉर्ड किया गया है। घाट के किनारे बने कई मंदिर डूब चुके हैं। काशी में चौबीस घण्टे में 01.06 मीटर की बढ़ोतरी हुई है।

वहीं, यमुना के बढ़ते जल स्तर को देखते हुए कोटा बैराज से पानी छोड़ा गया है, जिसकी वजह से गंगा का जल स्तर तेजी से बढ़ा है।

मौसम विभाग ने बागपत, सहानपुर, मेरठ, लखनऊ, गोरखपुर, महारजगंज, देवारिया और वाराणसी समेत कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार, पिछले 24 घंटों में बिजनौर के नजीबाबाद में 106 मिमी बारिश हुई है, जबकि हरदोई में 59 मिमी, सुल्तानपुर में 44 मिमी, बनारस में 42.6 मिमी, अलीगढ़ में 27 मिमी बारिश हुई है।