यूपी में बलात्कार के मामलों में 161 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी

13932904_1143978038992310_1113933141379857870_nउत्तर प्रदेश में लगातार बढ़ रहे बलात्कार के मामलों ने पूरे देश में सनसनी मचा दी है। हाल ही में हुई बुलंदशहर की घटना के बाद उत्तर प्रदेश और राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए जा रहे हैं।
ताजा आकंड़े बताते हैं कि उत्तर प्रदेश में पिछले 1 साल, 2014 से 2015 में बलात्कार के मामलों में 161 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है। उत्तर प्रदेश राज्य क्राइम ब्यूरो द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक 2014 में उत्तर प्रदेश में 3,467 बलात्कार की घटनाएं हुई थीं, जबकि 2015 में ये बढ़कर 9,075 हो गई।
इतना ही नहीं, बलात्कार का प्रयास करने वाली घटनाओं में भी 30 फीसदी का इजाफा देखने को मिल रहा है। अधिक चिंता की बात ये है कि यह आंकड़े बड़ी समस्या की बस एक छोटी सी झलक हैं।
राष्ट्रीय क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के 2014 के आंकड़ों के मुताबिक अन्य राज्यों के मुकाबले उत्तर प्रदेश में हर साल बलात्कार की घटनाओं में बढोत्तरी हो रही है और यह राष्ट्रीय औसत से लगभग दोगुना हो चला है।
पूरे देश में जहां वर्ष 2010 में 22,172 से 2014 में 36,735 तक बलात्कार का घटनाओं में 65 फीसदी का इजाफा देखने के मिला था, वहीं उत्तर प्रदेश में इस दौरान वर्ष 2010 में 1,563 घटनाएं वहीं 2014 में 3,467 घटनाएं यानी 121 फीसदी का इजाफा देखने को मिला था।
हालांकि यह भी माना जा रहा है कि पहले महिलाएं अब इस तरह के मामलों में पुलिस के पास जाकर शिकायत दर्ज कराने लगी हैं लेकिन यह कितना सच है इसे सामने लाने की सख्त जरूरत है।