यूपी में आलू के घटते दामों से परेशान किसान सड़कों पर फेंक रहे है आलू

साभार: नयाइंडिया

देश में सबसे ज्यादा आलू पैदा करने वाले यूपी के किसान बेहाल हैं, क्योंकि उन्हें लागत से भी बहुत कम दाम मिल रहा है।तंग कर किसानों ने सड़कों पर आलू फेंकना शुरू कर दिया है।
देश में पैदा होने वाले कुल आलू का 40 फीसदी यूपी में पैदा होता है। पिछले साल 155 लाख टन आलू पैदा हुआ। 120 लाख टन आलू कोल्ड स्टोरेज में रखा गया। यूपी में इटावा, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, कन्नौज, फिरोजाबाद, आगरा, अलीगढ़, हाथरस, बाराबंकी आदि में बड़े पैमाने पर आलू की खेती होती है।
किसानों ने पिछले साल मार्चफरवरी में कोल्ड स्टोरेज में आलू रखा था, जिसे बड़े पैमाने पर निकाला नहीं। अब फरवरी में आलू की नई फसल तैयार हो जाएगी। ऐसे में अपना कोल्ड स्टोरेज खाली करने के लिए कोल्ड स्टोरेज मालिक आलू फेंक रहे हैं।
सरकार ने 487 रुपये की दर से 10 लाख क्विंटल आलू खरीदने का लक्ष्य रखा था, लेकिन 13,000 क्विंटल भी आलू खरीदा नहीं जा सका। गरीब आलू किसान कड़ी मेहनत के बाद अपनी खेती पर अच्छे दाम चाहता है और यह मिल पाने पर निराश हो कर अब उसे सड़कों पर फेंक रहा है।