यूपी पुलिस ने कानपुर में नोटबंदी के बाद बंद हुए 97 करोड़ रूपये पकड़े

साभार: विकिपीडिया

यूपी पुलिस ने कानपुर के एक होटल समेत तीन जगहों से पुराने नोटों के 16 सौदागर पकड़े गए हैं। उनके पास से 97 करोड़ के पुराने नोट बरामद हुए हैं, जो कि नोटबंदी के बाद बैन करेंसी की सबसे बड़ी खेप है। पुलिस ने शहर के नामी बिल्डर कपड़ा कारोबारी आनंद खत्री समेत 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें से 6 लोगों के नाम सामने आए हैंआनंद खत्री (मुख्य अभियुक्त), संतोष यादव, मोहित डिगड़ी, संजय सिंह, कोटेश्वर राव और मनीष अग्रवाल। इनकी निशानदेही पर इतनी बड़ी रकम जब्त की गई है। पूछताछ में पता चला है कि पुराने नोट बदलने वालों का नेटवर्क पूरे देश में फैला था। पुलिस के अनुसार, यह किसी एक आदमी का पैसा नहीं है। बल्कि इसमें हैदराबाद, सहारनपुर, वाराणसी, ओडिशा समेत कई राज्यों और शहरों के पैसे थे, जिन्हें यहां पर औनेपौने दामों में निस्तारण के लिए लाया गया था।गौरतलब है कि पिछले दिनों मेरठ के एक बिल्डर संजीव मित्तल के पास से पुलिस ने 25 करोड़ के पुराने नोट बरामद किए थे।