यूपी चुनावों के लिए शुरू हुआ प्रचार-प्रसार का दौर

साभार: पत्रिका
साभार: पत्रिका

उत्तर प्रदेश में लगभग सभी पार्टियों ने विधानसभा चुनाव प्रचार की तैयारियां पूरी कर ली हैं। चुनाव प्रचार के लिए नरेंद्र मोदी यूपी में ताबड़तोड़ 8 रैलियाँ करेंगे।
24 अक्टूबर को महोबा में पहली रैली के लिए पार्टी के प्रान्तीय नेताओं ने महोबा में डेरा डाल लिया है। रैली को ऐतिहासिक बनाने के लिये प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल ने मुख्यालय के एक गेस्ट हाउस में बांदा मण्डल के सभी सांसदों पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं व टिकटार्थियों की बैठक ली और तय किया गया कि न्यूनतम पांच लाख लोगों को एकत्र कर विरोधी दलों को पार्टी का जनाधार दिखाना है।
वहीं, उत्तर प्रदेश में सत्तारुढ़ समाजवादी पार्टी में चल रहे सियासी घमासान के बीच मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि विधानसभा चुनाव 2017 के प्रचार अभियान के लिए किसी का इंतजार नहीं करेंगे और चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत खुद ही करेंगे। साथ ही उन्होंने एक कार्य्रक्रम के दौरान कहा कि नेताजी मेरे पिता हैं और शिवपाल सिंह यादव मेरे चाचा हैं। इन रिश्तों को बदला नहीं जाता। मेरे लिए सबसे पहले रिश्ते हैं, बाकि चीजें बाद में।
अखिलेश का चुनाव प्रचार की शुरुआत अकेले शुरू कर रहे थे जिसे लेकर विवाद की आशंका थी लेकिन उन्होंने किसी भी तरह के विवाद की बात से इन्कार किया है। साथ ही पार्टी की ओर से अखिलेश यादव को ही 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी का चेहरा बताया गया है।
दूसरी तरफ, 25 अक्टूबर को अपने चुनावी अभियान के तहत मायावती पटना में होंगी। वे दो जनसभाओं को संबोधित करेंगी। ये सभी जनसभाएं बसपा उम्मीदवारों के समर्थन में आयोजित की गई हैं। ये जनसभाएं पश्चिम चम्पारण व गोपालगंज में होने वाली हैं।