याद किए गए शहीद

फिल्म फेस्टिवल में महिला हिंसा को रोकने की संकल्प करते लोग
फिल्म फेस्टिवल में महिला हिंसा को रोकने की संकल्प करते लोग

जिला फैज़ाबाद। यहां के राजकीय आई.टी.आई कालेज के सभागार में दो दिन का फिल्म फेस्टिवल तो खत्म हो गया लेकिन इस फेस्टिवल ने लोगों के दिल को छू लिया।
शहीद अशफॅाकउल्ला खान और राम प्रसाद बिस्मिल के याद में मनाया जाने वाले इस फिल्म फेस्टिवल में देश के कोने कोने से सैकड़ों कवि और शायर आए हुए थे। इस फेस्टिवल को इसलिए भी आयोजित किया जाता है कि आज के युवा शहीदों की कुरबानी को जानें और उनमें देशप्रेम की भावना भी आए। इस फिल्म में आधी आबादी की आजादी अभी बाकि है…. नाटक ने लोगों को एक बार फिर से सोचने के लिए मजबूर कर दिया कि क्या हम आजाद हैं। इस नाटक ने लोगों को गहराई तक छुआ। नाटक को करने के बाद लोगों ने महिला हिंसा को रोकने का भी संकल्प लिया।