मोदी और रोहानी के खिले चेहरे, ईरान यात्रा हुई सफल

20160523103556.Medi copyईरान दौरे पर नरेंद्र मोदी ने कई डील की। ईरान के राष्ट्रपति हसन रोहानी से मुलाकात के बाद दोनों देशों के बीच व्यापर और अर्थव्यवस्था में सहयोग के लिए कई समझौते हुए। सबसे खास चाबहार पोर्ट की डील थी। इसके लिए भारत 3376 करोड़ रुपए मुहैया कराएगा। भारत अब अफगानिस्तान के जरिए सीधे ईरान से व्यापर कर सकेगा। इस दौरान अफगान के राष्ट्रपति भी वहां मौजूद थे।
ये हैं अहम समझौते…

1. ईरान में रेलवे लाइन बिछाएगा भारतः इरकॉन ईरान के चाबहार पोर्ट से जहेदान तक रेल लाइन बिछाएगा। इससे ईरान, अफगानिस्तान और एशिया तक भारत की पहुंच आसानी से हो सकेगी।
2. 15 करोड़ डॉलर की अधिकतम ऋण सीमाः एक्सिम बैंक ऑफ इंडिया ईरान को 15 करोड़ डॉलर की अधिकतम ऋण सीमा देगा।
3. एल्युमिनियम स्मेल्टर लगाएगा भारतः सरकारी कंपनी नाल्को ने एक एमओयू पर दस्तखत किए जिसके मुताबिक वह चाबहार फ्री ट्रेड जोन में 0.5 मिलियन टन का अल्युमिनियम स्मेल्टर लगाने के रास्ते के बारे में सोचेगा। बशर्ते ईरान कम कीमत पर नेचुरल गैस आपूर्ति कराए।
4. एक्सपोर्ट गारंटी फंडः एक एमओयू ईरान के एक्सपोर्ट गारंटी फंड और भारत के एक्सपोर्ट गारंटी कॉरपोरेशन के बीच हुआ।