मेहरियन के जान लेत काहे, दहेज अउर घर के लड़ाई

राजू
राजू

जिला चित्रकूट, ब्लाक पहाड़ी, गांव बेराउर। हिंया के पूजा अउर माया देवी के आगी लागै से मउत भे हवै। दहेज के कारन वहिके ससुराल वाले जान मारिन हवै। या बात माया का बाप बताइस हवै। माया अपने पिछे पांच बरस का बच्चा छोड़ गे हवै। जउन रात दिन रोवत रहत हवै। महतारी के बात कइके।
माया देवी का बाप रामबाहादूर, बताइस-“ मोर बिटिया माया अउर गुडिया के एकै परिवार मा शादी भे रहै। छोट बिटिया गुडि़या का वहिके ससुराल वाले परेशान करत रहंै। यहै से मुकदमा लगा दीने रहै। तीन महीना पहिले तौ यहै कारन ससुराल वाले बड़ी बिटिया माया का परेशान करै लाग। ससुराल वाले दीपावली के दिन आगी लगा के जला दिहिन हवै। यहै से 4 नवम्बर 2013 का राजापुर थाना मा रपट लिखाये हौं।
माया का मनसवा लवलेश जेठ मनोज बताइस कि गुडि़या के लड़ाई मा माया के मउत भे हवै। गुडि़या घर के लड़ाई का लइके मुकदमा लगा दिहिस हवै। या कारन माया दीपावली के दिन मइके खिचरी बेलहा गे रहै। पता नहीं का बात भे हवै। दुसरे दिन शाम के आई हवै। अउर रात मा आगी लगा लिहिस हवै। यहै से इलाहाबाद स्वरूपरानी अस्पताल लई गे तौ हुंवा ग्यारह बोतल चढ़ी हवैं। यहिके बाद मउत हाइगे हवै। राजापुर थाना के मंुशी श्रीराम गुप्ता कहत हवैं दहेज का मुकदमा लिख गा हवै। पोस्टमार्डम इलाहाबाद मा भा हवै। अबै रिर्पोट नहीं आई आय।