मेहरारू पै बढ़त हिंसा, जिम्मेदार के?

फैजाबाद, अम्बेडकर नगर मा ही नाय बल्कि पूरे उत्तर प्रदेष भर मा मेहरारू के ऊपर हिंसा दिन प्रतिदिन बढ़त जात बाय। सरकार केतना नियम कानून लगावत बाय पर वहि नियम कानून कै कउनौ असर नाय हुअत बाय। पूरे उत्तर प्रदेश भर मा हर रोज बलात्कार दहेज के कारण जलाउब या फिर घर से निकाल दिये कै घटना सामने आवाथै। लकिन यमहा शासन प्रशासन केतना सक्ती बरतत बाय ऊ रोज-रोज के हिंसा से पता चलाथै।
पूरे उत्तर प्रदेष मा मेहरारू के हिंसा रोकै के खिलाफ धरना प्रदर्षन हुआ कराथै सब न्याय कै मांग कराथिन। धरना मा मरद मेहरारू दुइनौ शामिल रहाथिन जवन हिंसा के प्रति आवाज उठावाथिन लकिन एक वै भी पुरूष अहैं जवन अपनी पत्नी का मारत पीटाथिन।
फैजाबाद अउर अम्बेडकर नगर मा 4 अगस्त का एक लड़की अउर एक महिला कै लाष मिली लकिन अबही तक पता नाय होय पाय कि कहां कै रहै वाली हुवय। एैसन एैसन हत्या कै दियाथिन कि इंसान सोचै का मजबूर होय जाथै। कैसे सरकार के नियम कै उल्लंघन हुवत बाय। अउर कउनौ खुलासा नाय होय पावत। कइयो साल तक केष चलाथै फिर भी कउनौ सफलता नाय मिलत कि दोषिन का सजा मिलै। चाहे ऊ दहेज कै कारण हुवय या फिर अन्य कारण से मारत हुवय।