मेन बाजार भीतर दुई किलो मीटर सड़क का बुरा हाल

chilla sadak banda se pezजिला बांदा। बांदा से चिल्ला जाय वाली सड़का मेन बाजार के पास लगभग दुई किलो मीटर सड़क लगभग तीन साल से खराब है, पै एक साल होइगे पी.डब्लू.डी. विभाग गिट्टा भर डलवा के छोड दिहिस है। अब बाजार मा बइठ सैकडन दुकानदार अउर सडक से गुजरैं वाले मड़इन का दिनभर व सड़क मा उडैं वाली घुल खाय का परत है।
दुकानदार अरविन्द्र अउर शिवकुमारी का कहब है कि हम लोगन का सुबेरे आठ बजे से रात आठ बजे तक दुकान खोल के बइठैं का परत है। दिन भर मा सैकडन साधन या सड़क से आवत जात हैं, तौ बहुतै धुल उडत है अउर गिट्टा चिटकत है। जेहिसे हमरे दुकानन मा रखा समान धूल से बरबाद होत है अउर ग्राहक खरीददारी करैं मा धूल मिट्टी से भरा सामान देख के नहीं पसंद करत। यहिसे हमार बहुतै नुकसान होत है। या दुई किलो मीटर खराब सडक हम लोगन का बजूर के बना देत है। सियाराम, कौशल अउर राजेश का कहब है कि या सडक बादा से कानपुर जाय के मेन आय। यहिका तौ बहुतै जल्दी बन जाय का चाही, पै विभाग के लोग कानन मा तेल डाले बइठ हैं। आये दिन या सड़क से आटो अउर मैजिक गाडी पंचड होत है। जेतना उंई लोग कमात निहाय। वहिसे जादा गाडी बनवावैं मा लाग जात है। अउर दिन भर धूल खाय से बीमारी का भी डेर बना रहत है अउर सडक मा परे गिट्टा चिट्क के भी लाग जात है। जेहिसे कउनौ चोटा सकत है। यहिसे सोचत हन कि या सड़क बन जाय तौ नीक है।
पी.डब्लू.ड़ी. विभाग निर्माण खण्ड (एक) के सहायक अभियन्ता चन्द्रभुषण का कहब है कि बाई पास सड़क का बजट रहै, तौ बन गे है। कस्बा के अन्दर वाली सडक का अबै बजट निहाय। अगर बजट आ जई तौ बनवाई जई।