मृत्यू प्रमाण-पत्र रहे पर मिलतई पेंसन

शांति देवी
शांति देवी

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा, पंचायत सिराही, गांव मठवा। उहां के शांति देवी लगभग दसो साल से विधवा छथिन लेकिन उनका पेंसन न मिलई छई।
शांति देवी कहलथिन कि हमरा पति (रामू पंडित) के पेट में दर्द रहे इलाज करईली लेकिन ठीक न होलई। जेई कारण उ मर गेलथिन। हमरा पास चार गो बच्चा रहे। हम मजदूरी कर के सब के पाल-पोस के शादी कईली। आज भी मजदूरी कर के जीवन-यापन करईले। लेकिन अभी ले विधवा पेंसन न मिलईय अउर बी.पी.एल. में भी हमर नाम न हय। अबकी बेर के जनगणना में राशन कार्ड भी न मिलल। पेंसन अउर बी.पी.एल. में नाम जोड़ावे के लेल प्रखण्ड से लेके पंचायत तक जाईत-जाईत थाक गेली। लेकिन कुछो न मिलईय।
मुखिया विजय कुमार राय कहलथिन कि मृत्यू प्रमाण-पत्र बनावे के लेल कोर्ट से हाफीडीफी बनावे के परतई। ओई के बाद प्रखण्ड में आवेदन जमा करथिन तब सचिव प्रमाण-पत्र बना के देथिन। तभीये उनका विधवा पेंसन मिलतई।
प्रखण्ड लिपिक समीन जी कहलथिन कि बी.पी.एल. में उनकर नाम न हई त मृत्यू प्रमाण-पत्र के साथ आवेदन आर.टी.पी.एस. काउन्टर पर जमा करथिन। ओई के बाद उनकर नाम जुट जतई। तब पेंसन मिलतई।