मुर्गी पालन खातिर नहीं मिलत बच्चा

कसत पालैं मुर्गी
कसत पालैं मुर्गी

जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, गांव छेरिहा खुर्द अउर सरहट का पुरवा सरबदा। हिंया के सैकड़न मड़ई लगभग दस दिन से मुर्गी पालन खातिर ब्लाक के चक्कर लगावत हवैं। सचिव वीरेन्द्र सिंह आज काल कहिके टरका देत हवै।
छेरिहा खुर्द गांव के पूजा अउर मोहनिया, सरहट गांव के विमला अउर शोभा समेत बीस मड़इन का कहब हवै कि मुर्गी पालन खातिर सरकार कइती से मुर्गी के पचास बच्चा अउर चार सौ पच्चीस रूपिया अनुदान मा मिलत हवंै। यहिके अंतिम तारीख 6 अगस्त 2014 तक रहै। सचिव वीरेन्द्र सिंह से कहत कहत समय भी निकर गा। यहै से अपने अपने गांव के प्रधान से कहे हन। प्रधान कहि देत हवै कि हम तौ फार्म मा दसखत कइ दीने हन। सरकार कइती से पास होइ तौ मिली, पै सचिव नहीं सुनत आय।
सचिव वीरेन्द्र सिंह का कहब हवै कि यहिके खातिर पहिले जांच करिहौं। फेर मुर्गी पालन खातिर मड़इन का बच्चा अउर अनुदान मिल सकत हवैं।