मुम्बई में इंडिया इंग्लैंड के छक्के छुड़ा रही है वहीं झाँसी में भी छाया हुआ है क्रिकेट का बुखार

जिला झांसी, शहर झांसी में शुरू भाव तीन दिवसीय टूर्नामेंट में झांसी के ही खिलाड़ीयन ने भाग लओ। जे खिलाड़ी स्टेडियम और बिपिन बिहारी स्कूल के हे। इन दोई टीम के बीच में भओ दोई टीम में ग्यारह ग्यारह खिलाड़ीयन ने मैच खेलो।
जो मैच ध्यान चन्द्र जी की पुन्यतिथि में करवाओ जात। जो टूर्नामेंट को कार्यक्रम हर साल करवाओ जात जा साल जो इते हो रओ। बेसे हर साल ध्यानचन्द्र स्कूल में ही होत।
खिलाड़ियन ने बताई के हम मानसिंह भाईसाब की टीम से खेल रए जो इते कैप्टन हे। आज के मैच में उन ने अच्छो प्रदर्शन दओ। हम उनके संगे दो तीन साल से खेल रए।
जाके पहले हमने परशुराम महाविद्यालय में भी खेलो। मैच से लगाओ हमाओ बचपन से ही रओ जब हम तीन साल के हते जब से हम मैच खेल रए। अबे हमाओ एक सौ पचास रन बनाबे को प्लान हतो।
लेकिन हमने केवल एक सौ बीस ही बना पाए। हम ओरन की इक्षा हे के हम भी आगे बड़े अपने मम्मी पापा को नाम रोशन करे। और अपने शहर को भी नाम रोशन करे।
हम भी एक दिन आबे वाले समय में टूर्नामेंट में भाग ले सके अपने पांवन पे खड़े हो के अपने मम्मी पापा की सहायता कर सके। उनको भी बोझ हलको हो सके।जाके लाने हमे चाह जितनी मेहनत करने परे।

रिपोर्टर- सोनी

12/12/2016 को प्रकाशित