मुकदमा जीते के बाद, दस महीना से नई मिलो खाना खर्चा

साधना ओर ऊखी बिटिया
साधना ओर ऊखी बिटिया

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी, कस्बा खरेला। एते के बच्चन सिंह के लड़की साधना की शादी ग्योड़ी गांव के अनूप (पुत्र रमेश) के साथे चैदह साल पेहले भई हती। साधना को आरोप हे कि मोये ससुराल वाले दहेज में मोटर साइकिल मांगत हते। न देये पे मोये घर से निकार दओ। जीखे कारन मे सात साल से दहेज प्रथा ओर खाना खर्चा को मुकदमा लड़त हों।
साधना ने बताओ अनूप ने दस महीना से मोये खाना खर्चा नई दओ हे। मोये एक लड़की हे। मे मायके में रेह मजदूरी करके आपन ओर लड़की खा पालत हों। मोओ ननदोई पुलिस विभाग में हे। एई से अनूप ज्यादा धमकी देत हे, ओर कोर्ट में भी सुनवाई नई होत हे।
साधना के वकील हरिष्चन्द्र वर्मा ने बताओ कि जिला जज ने दहेज प्रथा को मुकदमा खारिज कर दओ हतो। खाना खर्चा को मुकदमा साधना जीत गई हे। अनूप के एते पुलिस के द्वारा वारंट भेजे हे। काय से ऊ केऊ महीना से तारीख में नई आउत हे, ओर न साधना को खाना खर्चा देत हे।
अनूप को पूरो परिवार दिल्ली में होये के कारण कोनऊ से बात नई हो पाई हे।