मिलिए ललितपुर की लता मंगेश्कर से…

ललितपुर जिले के कुम्हैड़ी गांव की आशा चौरसिया बचपन से गा रही है वह स्कूल और शादी ब्याह में गाना गाती है। इसके लिए उसको कई बार इनाम भी मिला है। आशा चौरसिया का कहना है कि मेरी मौसी गाना गाती थी और मेरे साथ स्कूल में पढ़ती थी मैंने अपनी मौसी से गाना सीखा है गाना के बोल अपने से बनातें हैं घर में मम्मी और दीदी से मदद लेते है। हम घर में सभी लोग इकट्टा बैठकर गाना बनातें हैं फिर कापी में लिख लेतें हैं। हम जो गानें बनातें हैं उन गानों को शादी ब्याह और स्कूल में गातें हैं मुझे एक बार एक हजार का इनाम मिला है और दुसरी बार पांच हजार का इनाम और शील्ड मिली है।
आशा करते हैं आशा को ऐसा मंच मिले जहां से उन्हें दुनिया में एक पहचान मिलें
रिपोर्टर-सुषमा

Published on Dec 8, 2017