‘मिलिए जानी मानी दलित लेखिका मीना कनडासामी’

साभार: विकीपीडिया
  • मीना कंडासामी, जानी-मानी दलित लेखिका, का जन्म 1984 को तामिलनाडू में हुआ था।
  • मीना कविता, उपन्यास, अनुवाद लिखने के साथ एक समाज सेविका भी हैं।
  • उन्होंने अपनी पहली कविता 17 साल में लिखी थी। उनकी किताबों और लेखनी की बहुत आलोचना होती हैं। उनके विरोध में कट्टरपंथियों ने उनकी किताबों को भी जलाया है।
  • उनकी किताबें 18 भाषाओं में अनुवादित हो चुकी हैं। आधुनिक भारत में स्त्री की स्थिति और जातिवाद के खिलाफ वे लिखती हैं।
  • मई 2017 में उनका दूसरा ‘वेन आई हिट यू : ऑर ए पोर्टराइट ऑफ द रायटर एज़ ए यंग वाइफ़’ उपन्यास आया है। जिसमें उनके साथ हुए घरेलू हिंसा के विषय पर उन्होंने लिखा है।