मिलिए, ईरान में  दौड़ पूरा करने वाली पहली महिला धावक माशा तोराबी से

साभार: माशा तोराबी/व्हीमं

पिछले साल ईरान के पहले अंतर्राष्ट्रीय दौड़ में महिलाओं को आधिकारिक तौर पर भाग लेने की इजाजत नहीं दी गई थी। लेकिन एक पेय की कम्पनी में काम करने वाली 44 साल की माशा तोराबी ने बिना किसी के साथ के एक अनाधिकारिक दौड़ लगाने का मन बनाया।
हिजाब पहन कर दौड़ने वाली माशा ने साढ़े नौ घंटे बाद, वह ईरान में एक सार्वजनिक दौड़ पूरा करने वाली पहली महिला बन गयी हैं।
दौड़ लगाने के बाद वह कहती हैं, यह मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण था,. मैंने दिखाया है कि दौड़ में महिलाओं का होना जरुरी है। महिलाओं में ताकत है और मुझे सचमुच विश्वास है कि कुछ भी असंभव नहीं है।
सिर्फ यही नहीं, दौड़ने के बाद से माशा ने ईरानी रेगिस्तान में 155 मील की दौड़ भी पूरा कर ली थी।
-माशा इस दौड़ से यह साबित करना चाहती थीं कि महिलाएं कमजोर नहीं हैं और उन्होंने यह कर भी दिखाया।