मिलतई स्वरोजगार

जिला शिवहर, प्रखण्ड तरियानी के महदेवा में 26 अगस्त 2013 के स्वंय सहायता समूह के बैठक कयल गेलई। जइमें महिला समुह, सीआरपी अउर मनरेगा कार्यक्रम पदाधिकारी भाग लेले रहथिन।
समुह सदस्या आईना खातून, मोमीना खातून, मन्नी खातून कहलथिन कि हम सब लगभग चार साल से महिला समाख्या के तहत स्वंय सहायता गु्रप बनइली। अपना में लेन देन करई छी। दुबेर लोन भी मिल गेल। अब एई बैठक में अपना मन के व्यवसाय के प्रशिक्षण के बात कयल गेलईय।
कार्यक्रता पदाधिकारी अजय सहाय कहलथिन कि जेतना स्वर्ण जंयती स्वरोजगार योजना के तहत ग्रुप के हई ओकरा जिविका से जोड़ल जतईं। उनका सबके व्यव्साय के लेल प्रशिक्षण देल जतई। जई के तहत बकरी पालन, अगरबत्ति, मोमबती, बर्मी क्मपोस्ट जईसन कम पुजी बाला व्यव्साय के प्रशिक्षण देल जतई। जइसे उ सब कम पैसा में बेसी फायदा लोग कइसे कमा सकइ छथिन। जब उ छोट काम के भी सुचारु रुप से चला लेथिन तब ओई काम के आगे बढ़ावे के लेल उनका लोन भी देल जतई। अभी अही के लेल गांव-गांव में बकरी सेड, मवेशी सेड, मुर्गी फार्म मनरेगा के तहत बन रहल हई। अइसे गरीब के अपन स्वरोजगार होतई अउर उ कर्ज से बच पइथिन। लेकिन अब अई गुप के संचालन जिविक द्वारा कयल जतई।