मिट्टीकरण के लेल राह देखई छी

इ हई नीच जमीन
इ हई नीच जमीन

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा, पंचायत पोसुआ पटनिया, गांव पोसुआ। उहांव वार्ड नम्बर ग्यारह महादलित टोला में लगभग छः आदमी के मिट्टीकरण न भेलई। जेई कारण उ लोग घर न बनबई छथिन।
उहां के पानो देवी, जमुनी देवी, छोटू राम, लगभग पांच आदमी कहलथिन कि हमर सब के दूरा बहुत निच हई। निच रहे के कारण इंदिराआवास मिलल हई। लेकिन घर न बना पवईले।
सरकार गरीब लोग के जमीन भरावे के योजना लागू कयले छथिन। हमरा सब के नाम लिख के ले गेल हई। दु साल पहिले एगो कोई अधिकारी आयल रहथिन उ जमीन भी नापी कके ले गेल छथिन। लेकिन कहां मिट्टीकरण करवा देई छथिन। ऐई महंगाई में मजदूरी कके घर परिवार चलाउ कि जमीन भरवाउ।
कार्यक्रम पदाधिकारी कृपाशंकर झा कहलथिन कि काम योजना में लेल गेल हई। लेकिन मनरेगा फण्ड में तीन महिना से रूपईया न आ रहल हई। जब रूपईया आ जतई त काम शुरू कयल जतई।