महोबा शहर में रविन्द्र तिवारी की ह्त्या

जिला महोबा, गाँधी नगर  मोहल्ला एते के गांधी नगर मोहल्ला के पचास साल के रविन्द्र तिवारी की 29 जुलाई को गोली मार के हत्या कर दई। रवि न्द्र के परिवार वालेन को कैबो हें के पारवारिक लड़ाई के मारे मालिक पूरा महोल्ला के मोनू मिश्रा और उनके परिबार वालीन ने गोली चलाई ती।रबिन्द्र के परिवार वालेन ने मोत की खबर महोबा शहर कोतवाली में लिखाई हे ।
राजदीप तिवारी रविन्द्र खे भतीजा ने बताई के शाम के सात बजे रविन्द्र रविशंकर के घर गए ते। दो रिश्तेदारो के बीच लड़ाई चल रइ ती सो समझा के घर आ रये ते।तो पीछे से सोनू मोनू शनि रवि शंकर अरविन्द्र ने मिल के गोली मारी और गोली जा के उनके देने हाँथ में लगी और बे हाल ख़तम हो गये।साड़े बारा बजे इनकी बात होत रई और फोन पे धमकी दई।
मोनू के पिता पी डव्लू डी में चतुर्थ कक्षा के कर्मचारी हें।तो उनने गाली गलोज भी करी।इस केश के पहले पुलिस को बताओ।तो पुलिस नई आई और जा लड़ाई मोत को कारन बन गयी। पुलिस को साढ़े बारह बजे फोन करो। अगर तबई आ जाती तो आज जो मोत ना होती। पुलिस ने कोई ध्यान नई दओ।जामे सबसे ज्यादा गलती पुलिस की हें।
रविन्द्र तिवारी के बेटा सौरभ ने बताई कि हम ओरे जब उनके घरे गये बात करबे तो बोले सब ठीक हें भाईसाब कोनऊ बात नईया और जैसे ही हम औरे घर से निकरे और गये गाड़ी पे बेठे और पीछे से गोली मार दई।और हमाओ बाप हाल होई खतम हो गओ।
रिपोर्टर- सुनीता प्रजापति 
02/08/2016 को प्रकाशित

महोबा शहर में रविन्द्र तिवारी की ह्त्या
कोतवाली में शिकायत दर्ज