महोबा में हुआ एक साल नई मिसाल के तहत कार्यक्रम

यूपी सरकार के एक वर्ष पूरे होने पर एक तरफ जहाँ योगी आदित्यनाथ ने अपनी उपलब्धियों को मीडिया के सामने रखा वहीँ, 25 मार्च को महोबा शहर के पॉलिटिकल स्कूल में प्रदेश के कैबिनेट मंत्री दारा सिंह नेएक साल नई मिसालकार्यक्रम का आयोजन किया।
इस कार्यक्रम में कैबिनेट के कई मंत्रियों ने हिस्सा लिया और सरकार के साल भर के कार्यों का जमकर बखान किया।
वहीँ दूसरी तरफ, इस कार्यक्रम के बीच मंत्री  जी को अपनी परेशानी बताने के लिए महोबा के गाँव रतौला से एक कैंसर पीड़िता भी आई लेकिन उसे मंत्री जी से मिलने नहीं दिया गया। हार कर रोते हुए वो इस कार्यक्रम से चली गई।
कैंसर पीड़िता रश्मि ने भारी शोर में चीखते हुए कहा, ये सरकार गरीबों की नहीं है। गरीब के लिए इस सरकार ने कुछ नहीं किया। गरीब का जीवन बेकार है उसे सिर्फ मरना ही है।
इस बीच महोबा के किसान, हरिश्चंद ने अपनी समस्या के बारे में बताते हुए कहा, हमारी इतनी ही मांगे हैं कि हमें हर रोज की परेशानी से छुटकारा मिले। फसल का उचित दाम हो, पानी की सुविधा हो, बिजली हो और राशन मिले। लेकिन ये सरकार कुछ नही सुनती। मंत्री तो शहर घूमने के लिए आते हैं और चले जाते हैं।
इस कार्यक्रम में शामिल किसानों में से एक थी मुन्नी जो ओलावृष्टि की वजह से टूटे अपने खपरे और नष्ट फसल के मुआवजे के लिए वहां अपनी मांग रखने आई है लेकिन बड़े मंत्रियों के शोर में उनकी आवाज़ कहीं नहीं पहुंची।
कार्यक्रम के अंत में कैबिनेट मंत्री दारा सिंह चौहान ने प्रेस के सामने अपनी सरकार की किसानों के हितों के लिए बनायीं जाने वाली योजनाओं के बारे में बताते हुए कहा, हमारी सरकार छोटे किसानों और बड़े किसानों दोनों का सोचती हैं। छोटे किसानों को कम लागत पर कैसे अच्छी फसल मिले और फिर अच्छे दाम मिले इसके लिए हमारी सरकार योजनायें ला रही हैं। साथ ही सिंचाई आदि की व्यवस्था के लिए भी हम जल्द ही योजनायें देंगे।

रिपोर्टर- श्यामकली

Published on Mar 26, 2018