महोबा में पानी, नइयां कमी, डी.एम

उत्तर प्रदेश महोबा जिला। पानी की किल्लत खा देख के सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल ने कबरई के साथे आस पास के गांवन मे बोर ओर सबमर्सिबल लगवायें के लाने 15 फरवरी खा एक-एक लाख रूपइया देय खा कहो हतो। जीखे महोबा सी.डी.ओ ओर जल संस्थान ने इत्ते बजट मे काम करें से मना कर दओ। महोबा हमीरपुर सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल ने दिल्ली मे मीटिंग मे बात करी, केन्द्र सरकार ने पानी देय की मंजूरी दे दई हती।
रेल राज्य मंत्री मनोज सिंहा ने महोबा मे 6 मई खा आदमी ओर जानवरन की प्यास बुझाये के लाने बाण सागर से पानी भर के भेजी हती। 4 मई खा देर रात तक गाड़ी झांसी पहुच गई। ई गाड़ी मे पांच लाख लीटर पानी आ सकत हतो। पे महोबा डी.एम. वीरेश्वर सिंह ने ई पानी लेय से मना कर दओ। कहो की महोबा जिला मे पानी कि परेशानी नईयां। जिते हे ओते टैंकर भेज के पानी की पूर्ति होत हे।
जभे ईखे बारे मे खबर लहरिया पत्रकार ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव अलोक रंजन से बात करी तो ऊने कही की पानी वाली ट्रेन की सरकार खा कोनऊ जरूरत नइयां। न ही सरकार ने मांग करी हे। ई ट्रेन के लाने रेल विभाग मंत्रालय से कोनऊ ने फैसला लओ हे। महोबा डी.एम. को फोन आओ हतो तो बताओ हे की जभे सरकार खा पानी की जरूरत परहे तो केन्द्र सरकार से मांग करहे। अभे के लाने गांवन में टैंकर से पानी की सुविधा करा दई हे। साथई मनरेगा ओर राहत पैकिट की भी बात कही। पूछो की का सरकार ईमे संतोषजनक हे।
आलोक रंजन ने कहो की सौ प्रतिशत संतोषजनक हे, मनरेगा को टारगेट पूरा ही बल्की एक सौ चालिस प्रतिशत काम कराओ हे। जा भी कहो की राहत पैकिज देय मे कोनऊ भी अन्तोदय परिवार खा नईं छोड़त हे। अप्रैल माह मे अस्सी प्रतिशत आदमियन खा लाभ दओ हे। बीस प्रतिशत बाकी हे। जोन महोबा डी.एम. ने बताओ हे ओई हम बता सकत हे।

रिपोर्टर – सुनीता प्रजापति और प्रियंका कोटमराजु