महोबा जिले में दहेज़ ने ली एक और मासूम की जान

सरकार भले ही महिला सुरक्षा की बात कर रही हो और बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओ जैसा नारा जन-जन की जुबान पर है, किन्तु आज भी महिलाये सुरक्षित नहीं हैं और न महिला हिंसा रुकने का नाम ले रही है। 25 फरवरी को महोबा जिले के लिलवाही गांव में एक महिला की मिट्टी के तेल डालकर आग लगने से हुई मौत का मामला सामने आया है। मायके वालो का आरोप है कि ससुरालवाले दहेज न मिलने के कारन हमारी लड़की को मार डाला है, किन्तु अभी तक रिपोर्ट नहीं लिखी गई है।
लड़की के चाचा हलकाई का कहना है कि हमें दुसरे लोगों से इस हादसे के बारें में पता चला है, तब हम पुलिस के पास गये है। ससुराल की तरफ से पहले भी लड़की के सतानें की खबर सामने आयी थी, तब समझौता हुआ था और हमनें दहेज देने को कहा था। मई 2017 में लड़की की शादी सम्मेलन से की गई थी।
पुलिस इस केस में कार्यवाही करने की बात कह रही है।    

रिपोर्टर- सुनीता प्रजापति

Published on Feb 28, 2018